नई दिल्ली: रियो ओलिंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाली पीवी सिंधु को सीआरपीएफ कमांडेंट का पद देगी. ऐसा पहली बार है जब सीआरपीएफ किसी खिलाड़ी को ब्रांड एम्बैसेडर बनाएगी.

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen

इसे लेकर सीआरपीएफ ने गृह मंत्रालय को प्रस्ताव भेजा है. प्रस्ताव पर अंतिम मुहर राष्ट्रपति लगाएंगे. इसके लिए 10 से 15 दिनों के भीतर मंजूरी मिल जाएगी. वैसे, इसके लिए बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने सहमति दे दी है. करीब तीन लाख से ज्यादा तादाद वाली सीआरपीएफ में कमांडेंट पुलिस में एसपी और सेना में कर्नल के स्तर का पद होता है

सीआरपीएफ में करीब चार हजार महिलाएं हैं. तीन बटालियन तो पूरी महिलाओं की है. नक्सल से लेकर आतंकवाद के खिलाफ तैनात सीआरपीएफ पहली बार किसी खिलाड़ी को इतना बड़ा पद देने के साथ-साथ और ब्रांड एम्बैसेडर भी बनाने जा रही है.

इससे पहले बीएसएफ ने क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली को ब्रांड एम्बैसेडर और सेना ने वनडे के कप्तान एमएस धोनी को मानद लेफ्टिनेंट कर्नल बनाया है. सीआरपीएफ को लगता है कि इससे न केवल उसकी छवि बेहतर होगी बल्कि सिंधु के जुड़ने से और लोग सीआरपीएफ की ओर आकर्षित होंगे खासकर महिलाएं.