Breaking News

टीम इंडिया ने रचा इतिहास, 85 साल में पहली बार विदेशी धरती पर किया ये कारनामा

कैंडी (श्रीलंका): टीम इंडिया ने तीसरे टेस्ट मैच में श्रीलंका को पारी और 171 रनों से मात देकर इतिहास रच दिया है| भारत ने 1932 में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू के बाद से 85 साल के इतिहास में विदेशी सरजमीं पर 2 से ज्यादा मैचों की टेस्ट सीरीज में पहली बार क्लीन स्वीप किया है| इससे पहले टीम इंडिया ने 2004 में बांग्लादेश और 2005 में जिम्बाब्वे में जरूर सीरीज

पूरी सफलता के लिए दिल से प्रयास जरूरी : मुख्यमंत्री

जयपुर, 06 अगस्त (हि.स.)। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि जीवन में दिल से पूरे प्रयास किए बिना पूरी सफलता नहीं मिलती और आसानी से मिली सफलता का जीवन में अधिक महत्व नहीं होता। उन्होंने कहा कि हम जो सीखते हैं उसे जीवन में कैसे उतारें, यह सीखना भी उतना ही महत्वपूर्ण है। राजे फेस्टिवल ऑफ एजूकेशन के दूसरे दिन अभिनेत्री सुष्मिता सेन के साथ ‘अप क्लोज एण्ड पर्सनल’ सत्र

भारत ने लिखा नया इतिहास, 200 हाथियों के बराबर वजनी GSLV मार्क-3 सैटेलाइट किया लांच

-इसरो के रिकॉर्ड 104 सैटेलाइट लॉन्चिंग पर पीएम मोदी व राष्ट्रपति ने दी बधाई चेन्नई। भारत ने आज एक नया इतिहास लिख दिया। भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो ने 200 हाथियों जितना वजनी सैटेलाइट लॉन्च किया। इस लॉन्च के लिए उल्टी गिनती जारी थी। इसरो के अनुसार संचार उपग्रह जीसैट-19 को अंतरिक्ष में ले जाने का 25 घंटे का काउंटडाउन चल रहा था। इस सैटेलाइट को अंतरिक्ष में ले जाने का

17 वर्षीय छात्र का कमाल, 500 रुपये के पुराने नोटों से बनाई बिजली

भुवनेश्वर।: ओडिशा के नुआपादा जिले के एक 17 वर्षीय छात्र ने 500 रुपये के बैन हो चुके पुराने नोटों से बिजली पैदा करने की तकनीक तैयार की है। खरिअर कॉलेज के लख्मण दुन्डी नाम के एक स्टूडेंट ने बताया कि वह 500 रुपये के एक पुराने नोट से 5 वोल्ट बिजली पैदा कर सकता है। सूत्रों के मुताबिक लख्मण ने बताया कि, मैंने ऊर्जा पैदा करने के लिए नोट पर

अंशु ने चौथी बार माउंट एवरेस्ट पर फहराया तिरंगा

इटानगर, 17 मई (हि.स.)। अरुणाचल प्रदेश के पर्वतारोही अंशु जमशेप्पा ने बीते मंगलवार की सुबह नौ बजे चौथी बार विश्व की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर पहुंचकर भारतीय तिरंगा फहरा कर एक नया कीर्तिमान अपने नाम दर्ज किया। ड्रीम हिमालय साहसिक खेल के प्रबंध निदेशक ने कहा कि अंशु और फूरी शेरपा ने दुनिया की सबसे ऊंची चोटी पर सफलतापूर्वक फतह हासिल की है। दो बच्चों की मां, अंशु

मिसाल: शराब के लिए बदनाम महुआ से महिलाएं बना रहीं खुशियों के लड्डू

-महुआ के लड्डू बनाकर महिलाओं की आर्थिक स्थिति बदलने में जुटीं संतोषी यादव जगदलपुर, 12 मई (हि.स.)। बस्तर अपनी आदिवासी संस्कृति और वनोपज के लिए देश सहित दुनिया में प्रसिद्ध है। यहां की इमली व महुआ वनोपज आदिवासियों के आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करती है। अभी तक महुआ का प्रयोग अवैध शराब बनाने में होता था लेकिन कामानार की 21 वर्षीय संतोषी यादव महुआ के लड्डू बनाकर अपने साथ गांव

19 साल पहले भारत ने पोखरण में अमेरिकी सैटेलाइट को इस तरह दिया था गच्चा

नई दिल्‍ली: 11 मई 1998 को पोखरण में दूसरा परमाणु परीक्षण किया गया था| ये परीक्षण इसलिए अहम था क्‍योंकि इसने पूरी दुनिया के सामने भारत की छवि को बदल कर रख दिया था| उस दिन दुनिया ने समझा कि भारत तेजी से उभरती ताकत है और ये भी कि कोई सैटेलाइट उसके मंसूबों को भांप नहीं सकती| जी हां, ये बात अमेरिका के परिप्रेक्ष्‍य में सही साबित होती है|

मां बेचती थीं अंडे, बेटा बन गया राष्ट्रपति

सोल, 10 मई (हि.स.)। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन उदारवादी विचार और जुझारू स्वभाव के इंसान हैं। वह मानवीय मूल्यों और समतावादी समाज बनाने के पक्षधर रहे हैं। मून की सोच और सुर दोनों उनके पूर्ववर्ती राष्ट्रपतियों भिन्न है। वह 2012 के राष्ट्रपति चुनाव में पार्क गुन हे से मामूली अंतर से हारे थे। विदित हो कि भ्रष्टाचार के आरोप में पार्क गुन हे अब जेल में बंद

इसरो की कामयाबी से दुनिया दंग, नारियल पेड़ को बनाया था लांचिंग पैड, बैलगाड़ी से ढोए राकेट

-15 अगस्त 1969 को डॉ. विक्रम साराभाई ने की थी इसरो की स्थापना -साराभाई के बाद डा. अब्दुल कलाम का इसरो की कामयाबी में बड़ा हाथ नई दिल्ली: भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो ने बुधवार को एक ही रॉकेट के माध्यम से रिकॉर्ड 104 उपग्रहों का सफल प्रक्षेपण करके इतिहास रच दिया है। इस लॉचिंग से भारत ने अतंरिक्ष बाजार में एक नई होड़ शुरू कर दी है। अभी तक रूस

आसमान के नीचे गुजारीं रातें, खाने तक को नहीं थे पैसे, ऐसी है जावेद अख्तर की कहानी

  न्यूज़ dnn नेटवर्क: सिनेमा के बेहतरीन गीतकार और स्क्रिप्ट राइटर जावेद अख्तर का आज जन्मदिन है। उनका जन्म आज ही के दिन 1945 में मध्यप्रदेश के ग्वालियर में हुआ था। जावेद अख्तर का असली नाम जादू है, उनके पिता जां निसार अख्तर बड़े उर्दू शायर और फिल्म गीतकार थे।  उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ अनसुनी बातें 1.  जावेद अख्तर 1964 में मुंबई आए थे, एक दौर ऐसा था जब

चक दे इंडिया का हीरो : शाहरुख की तरह विश्व विजेता टीम बना दी हरेंद्र सिंह ने

भारतीय पुरुष जूनियर हॉकी टीम ने जूनियर वर्ल्ड कप हॉकी टूर्नामेंट जीता । इस जीत का सपना देखा छपरा के रहने वाले कोच हरेंद्र सिंह ने और चक दे इंडिया की तरह सपना देखा उसे पूरा किया। पटना(एजेंसी)। भारतीय पुरुष जूनियर हॉकी टीम ने जूनियर वर्ल्ड कप हॉकी टूर्नामेंट जीत लिया है। इसके साथ ही टीम के छपरा के कोच हरेंद्र सिंह का भी सपना पूरा हो गया, तो 2005

इस भारतीय ने खोजी अनोखी तकनीक, अब खुद-ब-खुद रिपेयर होंगी सड़कें और लागत भी कम

-डॉ नेमकुमार बंथिया ने सेल्फ-रिपेयरिंग सड़क का निर्माण करके हासिल की बड़ी उपलब्धि (न्यूज़ DNN नेटवर्क) : हमारे देश में कहीं भी चले जाएँ, सड़कें खस्ताहाल ही मिलती हैं. जो सड़कें नई भी बंटी हैं, वो एक बरसात के बाद ही फिर से उखड जाती हैं. हर वर्ष हजारों घंटे और करोड़ों रूपए इन सड़कों के गड्ढे ही भरने में लग जाते हैं। इस समस्या से निजात दिलाने के लिए

गैंगरेप के बाद दरिंदों ने बिना कपड़ों के घुमाया था, PAK की मुख्तारन माई अब उतरीं रैम्प पर

इस्लामाबाद 03 नवम्बर:: मुख्तारन माई के साथ 14 साल पहले दरिंदगी की हदें पार हुई थीं। उनके साथ गैंगरेप किया गया। फिर आरोपियों ने उन्हें बगैर कपड़ों के घुमाया। अब मुख्तारन माई पाकिस्तान में महिलाओं के सम्मान के लिए लड़ रही हैं। यही मुख्तारन माई रैम्प पर उतरीं। इस मौके पर उन्होंने कहा कि वे पाकिस्तान की महिलाओं में उम्मीद और हिम्मत की नई रोशनी पैदा करना चाहती हैं। मुख्तारन

हाथ के हुनर से गरीब बच्‍चों के चेहरों पर मुस्‍कान लाती है शिरिजा

न्यूज़ dnn नेटवर्क , 20 अक्टूबर:| 13 साल की शिरिजा राजे मुंबई में रहती है| उसकी उम्र के ज्‍यादातर बच्‍चे दिवाली पर पटाखे लाते हैं, दीए जलाते हैं और मिठाई खाते हैं पर शिरिजा इन सबसे अलग है| वह टाटा मेमोरियल हॉस्टिपल में एक वर्कशाप करेगी जिसमें वह गरीब बच्‍चों को हैंडिक्राफ्ट सिखाएगी| शिरिजा कहती है, ‘मैं अभी 13 साल की हूं और उम्‍मीद करती हूं कि हर दिवाली पर

इस हरियाणवी छोरे को सलाम! सिर्फ पानी पीकर बन गया नेशनल चैंपियन

अजय मलिक ने मूलभूत सुविधाओं और जरूरतों के अभाव के बावजूद अंडर-14 वर्ग में नेशनल चैंपियनशिप जीतकर दिखाई है। गोहाना (हरियाणा) :। उच्च श्रेणी की आधारभूत संरचना और सुविधाओं को आईना दिखाते हुए अजय मलिक नाम का एक चैंपियन अपने पिता की खेती की जमीन पर अभ्यास कर रहा है। हाल ही में डीएलटीए परिसर में संपन्न अंडर-14 टेनिस टूर्नामेंट में 13 साल का अजय राष्ट्रीय विजेता बनकर उभरा है।

एक-एक कर मर्द पहलवानों को धूल चटा रही है ये लेडी ‘सुल्तान’

बरेली: । बाबा वनखंडी नाथ मंदिर में मंगलवार को आयोजित दंगल लेडी ‘सुल्तान’ नेहा तोमर के नाम रहा। नेहा ने दिल्ली के पहलवान हारुन को महज पांच मिनट में ही धूल चटा दी। जोगी नवादा में दोपहर साढ़े तीन बजे शुरू हुई कुश्ती देखने के लिए भारी भीड़ जुटी थी। ज्यादातर लोगों ने दांव हारुन पर लगाया। यह सोचकर कि उत्तराखंड के देहरादून की नेहा उसे क्या मात देगी,मगर यहां