लखनऊ, 07 फरवरी । लश्कर आतंकी शेख अब्दुल नईम के हवाला कारोबारियों से कनेक्शन के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने हवाला करोबारी अब्दुल समद को रुड़की से गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी को एनआईए ने दिल्ली कोर्ट में पेश किया। उसे छह दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा गया है।
एनआईए की टीम ने बीते दिनों लश्कर के आतंकी महफूज को गिरफ्तार कर दो दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड लेकर पूछताछ की तो उसने कई राज खोले। पता चला कि आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के लिए पैसा जुटाने के बड़े नेटवर्क यूपी में है। उत्तर प्रदेश के हवाला कारोबारी भी आतंकियों के लिए फंड जुटा रहे थे। इसी मेंं एक नाम अब्दुल समद का भी था। अब्दुल समद मुजफ्फरनगर, देवबंद और रुड़की में हवाला का कारोबार कर रहा था। एनआईए ने उसे रुड़की से गिरफ्तार किया। पूछताछ में पता चला कि अब्दुल समद सऊदी अरब में बैठे लश्कर फाइनेंसर के संपर्क में था।
जांच में यह भी जानकारी हुई कि सऊदी अरब में करीबी रिश्तेदार के जरिए अब्दुल समद आया था। उसने नवंबर 2017 में हवाला के जरिए 3.5 लाख की रकम आतंकी संगठन को भेजी थी। यह रकम पहुंचाने वाला गिरफ्तार आतंकी शेख अब्दुल नईम था। शेख अब्दुल नईम लश्कर का बड़ा आतंकी 2006 हैदराबाद ब्लास्ट का मुख्य आरोपी है। शेख अब्दुल नईम को एनआईए ने लखनऊ के नाका इलाके से गिरफ्तार किया था। पूछताछ में उसमें पता चला है कि लश्कर आतंकी शेख अब्दुल नईम, महफूज आलम को बिहार के साथ-साथ उत्तर प्रदेश, उड़ीसा और जम्मू कश्मीर में लश्कर के ठिकाने बनाने में मदद कर रहा था।
एनआईए की टीम ने लश्कर के आतंकी महफूज को गिरफ्तार कर दो दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड लेकर पूछताछ की तो उसने कई राज खोले। पता चला कि आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के लिए पैसा जुटाने के बड़े नेटवर्क यूपी में है। प्रदेश के हवाला कारोबारी भी आतंकियों के लिए फंड जुटा रहे थे। इस कड़ी को जोड़ने के लिए एनआईए ने मुजफ्फरनगर के दो हवाला कारोबारियों के घर छापेमारी की गई।
उसमें पता चला है कि लश्कर आतंकी शेख अब्दुल नईम, महफूज आलम को बिहार के साथ-साथ उत्तर प्रदेश, उड़ीसा और जम्मू कश्मीर में लश्कर के ठिकाने बनाने में मदद कर रहा था। खाड़ी देशों से वेस्टर्न यूनियन मनी ट्रांसफर के जरिए लश्कर के आतंकियों को रकम भेजी जा रही थी।
आतंकियो के निशानदेही पर एनआइ्र्रए ने मुजफ्फरनगर के दो हवाला कारोबारियों दिनेश गर्ग और आदेश कुमार जैन के घर छापेमारी की थी। दिनेश गर्ग के घर से 15 लाख रुपए की नकदी के साथ एक पिस्टल, दो नोट गिनने वाली मशीन के साथ ही तमाम फोन और लैपटॉप मिले हैं। दूसरे कारोबारी आदेश जैन के घर से 32.84 लाख रुपए, एक चाइनीज पिस्टल के साथ तमाम विदेशी हवाला कारोबारियों का रिकॉर्ड मिला है।