तिरुवनंतपुरम.सोनिया गांधी और केरल के पूर्व सीएम ओमान चांडी समेत 4 कॉंग्रेसी नेताओं के खिलाफ यहां एक कंस्ट्रक्शन कंपनी ने 2.8 करोड़ के बकाये को लेकर FIR दर्ज कराई है। कंपनी ने पहले कांग्रेस प्रेसिडेंट को लीगल नोटिस भेजने के बावजूद भी पैसे नहीं मिलने पर कोर्ट का रुख किया। बुधवार को एफआईआर दर्ज हुई।
तिरुवनंतपुरम में राजीव गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ डेवलपमेंट स्टडीज की बिल्डिंग का कॉन्ट्रैक्ट हैथर कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड को दिया था।कंपनी के मैनेजिंग पार्टनर राजीव ने बताया कि हमें समय से पेमेंट नहीं किया गया। कांग्रेस कमेटी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की याद में इस इंस्टीट्यूट को बनाने का फैसला किया था। नेय्यार डैम के किनारे जिस जमीन पर इंस्टीट्यूट बना है, वह कांग्रेस की स्टेट यूनिट के नाम पर खरीदी गई थी।सोनिया ने बतौर चीफ गेस्ट इस प्रोग्राम में शामिल हो इंस्टीट्यूट की नींव रखी थीं।हैथर कंस्ट्रक्शन ने 2013 में इसका काम पूरा कर इंस्टीट्यूट को स्टेट कांग्रेस कमेटी को सौंप दिया था।
मामले पर सफाई देते हुए पार्टी के स्पोक्सपर्सन रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ”कॉन्ट्रैक्टर ने सिविल सूट दायर किया है। हम बातचीत कर मामला जल्द सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं।” सुरजेवाला ने दावा किया कि यह कोई कोई क्रिमिनल ऑफेन्स नहीं है और न ही यह पेमेंट डिफॉल्ट का मामला है।इंस्टीट्यूट की बिल्डिंग बनाने का कॉन्ट्रैक्ट 20 करोड़ में दिया गया था, जिसका करीब 2 करोड़ पेमेंट करना बाकी है।

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen