चंडीगढ़. ग्रामीण क्षेत्रों में प्रदूषित पानी की सप्लाई के विरुद्ध शांतिपूर्वक रोष धरने पर बैठे आम आदमी पार्टी के वालंटियर्स और नेताओं पर शाहकोट पुलिस द्वारा झूठा मामला दर्ज करने के विरोध में आम आदमी पार्टी आगामी 31 अगस्त को स्थानीय अकाली विधायक और ट्रांसपोर्ट मंत्री अजीत सिंह कोहाड़ के गांव में रोष रैली करेगी।

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen

सोमवार को यह घोषणा शाहकोट के डीएसपी कार्यलय के बाहर आम आदमी पार्टी द्वारा लगाये गये रोष धरने में पार्टी की राज्य स्तरीय लीडरशिप ने किया। ‘आप’ नेताओं ने शाहपुर पुलिस पर अकाली मंत्री अजीत सिंह कोहाड़ की कठपुतली होने का आरोप लगाते हुये शाहकोट के डीएएसपी जसविंदर सिंह बराड़ को तुरंत निलिंबत करने और झूठे पर्चे रद्द करने की मांग उठाई।

शाहकोट पुलिस द्वारा ‘आप’ वालंटियर्स पर झूठे मामले दर्ज करने और बेवजह परेशान करने के गंभीर आरोप लगाते हुये डीएसपी कार्यलय पर धरना आयोजित किया गया, जिसमें पार्टी के पंजाब के कनवीनर सुच्चा सिंह छोटेपुर, संगठनात्मक मामलों के राष्ट्रीय सचिव दुर्गेश पाठक, युवा विंग के प्रधान और साहनेवाल से उ मीदवार हरजोत सिंह बैंस, प्रवक्ता सुखपाल सिंह खैहरा, योमिणी गौमर, गुरप्रीत सिंह घुग्गी, सुलतानपुर लोधी से पार्टी के उ मीदवार सज्जन सिंह चीमा, युवा विंग के सचिव सुखदीप सिंह लापरा समेत अन्य नेताओं और भारी सं या में वालंटियर्स और समर्थकों ने हिस्सा लिया।

‘आप’ नेतृत्व द्वारा जिला प्रशासन को दिए गये ज्ञापन में राजनीतिक दबाव में पुलिस प्रशासन का दुरुपयोग करने के आरोपी डीएसपी जसविंदर सिंह बराड़ को तुरंत निलिंबत करने, झूठे पर्चे रद्द करने और प्रशासन की लापरवाही कारण इलाके में प्रदूषित पेयजल सप्लाई के पीडि़त ग्रामीणों से पीडि़त ग्रामीणों का मु त ईलाज करने और मृतक के पीडि़त परिवार को उचित मुआवजे जैसी मांगे उठाई। ‘आप’ नेताओं ने प्रदूषित पेयजल सप्लाई करने वालों पर भी कार्यवाई की मांग की।

‘आप’ के दबाव में आकर स्थानीय प्रशासन ने डीएसपी जसविंदर सिंह बराड़ को सात दिन की छुट्टी पर भेज दिया है। साथ ही पूरे मामले की पांच दिनों में जांच करने और उस उपरांत झूठे पर्चे रद्द करने का आश्वासन ‘आप’ नेताओं को दिया गया है। इसके साथ ही प्रशासन ने प्रदूषित पेयजल कारण बीमार हुये ग्रामीणों का मु त ईलाज करने करने का भरोसा भी दिया गया।

इस अवसर पर बोलते हुये सुच्चा सिंह छोटेपुर, हरजोत सिंह बैंस, सुखपाल सिंह खैहरा और गुरप्रीत सिंह घुग्गी ने कहा कि आम आदमी पार्टी अकाली सरकार के जुल्म को कदाचित बर्दास्त नहीं करेगी। उन्होंने पुलिस और प्रशासन को कहा, ‘पुलिस और प्रशासन को कानून के मुताबिक काम करना चाहिये। जो अफसर अकाली दल के ‘जत्थेदार’ बनकर अपने राजनीतिक आकाओं को खुश करने के लिये आम जनता और ‘आप’ वालंटियर्स पर अत्चार करेंगे, वह बर्दास्त नहीं किया जायेगा। ऐसे जुल्म के विरुद्ध ईंट से ईंट बजा दी जायेगी।’

वर्णनीय है कि प्रदूषित पेयजल कारण शाहकोट के ग्रामीण इलाकों में दो मौतों का समाचार है जबकि 50 से ज्यादा लोग बीमार पड़ चुके हैं। जिसके विरोध में रोष धरना आयोजित किया गया था और शाहकोट पुलिस ने धरना प्रदर्शन में शामिल आप के वालंटियर्स पर 307 के झूठे मुकदमें दर्ज कर दिये हैं।