नई दिल्ली। ट्रेन में सफर के लिए यात्री अब एम-आधार को आइडी प्रूफ (पहचान प्रमाण पत्र) के रूप में इस्तेमाल कर सकेंगे। रेल मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि उसने किसी भी आरक्षित श्रेणी के यात्रियों के लिए पहचान पत्र के रूप में आधार के डिजिटल प्रारूप ‘एम-आधार’ को मंजूरी देने का फैसला लिया है।

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen

रेल मंत्रालय की ओर से जारी बयान के अनुसार, किसी भी आरक्षित श्रेणी में सफर के दौरान यात्री जब पासवर्ड डालकर एम-आधार दिखाएगा तब उसे आइडी प्रूफ के रूप में स्वीकार किया जाना चाहिए। मालूम हो, एम-आधार एक मोबाइल एेप है। डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इसे भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआइडीएआइ) ने लांच किया है। इससे कोई भी व्यक्ति डाउनलोड कर सकता है। हालांकि इसे केवल उसी मोबाइल नंबर पर डाउनलोड किया जा सकता है, जो आपके आधार से लिंक हो। यह अभी केवल एंड्रायड फोन पर ही काम करेगा।