प्योंगयांग: उत्तरी कोरिया का तानाशाह किम जोंग उन कुछ भी कर सकता है। रियो ओलंपिक में मेडल नहीं जीतने वाले खिलाड़ियों को उसने अजीब सजा देने की ठान ली है। खबरों की माने तो किम उन सभी खिलाड़ियों से कोयले की खदान में काम करवाएगा जिसने मेडल नहीं जीता।

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen

किम जोंग को अपने खिलाड़ियों से ओलंपिक में 5 गोल्ड मेडल के साथ 17 मेडल्स जीतने की अपेक्षा थी लेकिन ऐसा हो नहीं पाया। उत्तरी कोरिया ने रियो ओलंपिक में महज 7 मेडल ही अपने नाम करने में सफलता पाई।

सजा वो भी LIVE TV पर…
उत्तर कोरिया की तरफ से रियो ओलंपिक में कुल 31 खिलाड़ी देश का प्रतिनिधित्व करने रियो गए थे। इसके खिलाड़ियों ने 2 गोल्ड, 3 सिल्वर और 2 ब्रॉन्ज मेडल जीते। ऐसी भी खबरें हैं कि एक फुटबॉल मैच हारने पर नॉर्थ कोरिया के खिलाड़ियों को लाइव टीवी पर सजा दी गई थी। उन्हें भी खदानों में काम करने के लिए भेज दिया गया था।

सेल्फी खिंचाने की सजा मौत!
रियो ओलंपिक से एक तस्वीर ऐसी भी आई थी जिसे देखकर कहा गया कि उत्तरी कोरिया का तानाशाह किम जोंग सजा-ए-मौत दे सकता है। दरअसल, इसमें उत्तर कोरिया की पहली महिला जिमनास्ट हॉन्ग यूं जूंग ने अपने विरोधी देश दक्षिण कोरिया की एक एथलीट के साथ सेल्फी ली थी। इस वजह से गुस्सा होकर किम जोंग उसे वतन वापसी पर मौत की सजा सुना सकता है।

मेडल जीतने वाले होंगे मालामाल
किम जोंग अपेक्षाओं के मुताबिक मेडल नहीं जीत पाने की वजह से खिलाड़ियों की तमाम तरह की सुख-सुविधाओं को छीन सकता है। वहीं पदक जीतने वालों को सिर आंखों पर ​बैठाकर उन्हें ईनाम भी दिया जाएगा।