अहमदाबाद: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के पीएम शिंजो आबे ने वीरवार को अहमदाबाद में देश के पहली बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का शिलान्यास कर दिया है| करीब 1 लाख करोड़ रुपए का यह प्रोजेक्ट अहमदाबाद से मुंबई तक का है| सरकार की ओर से कहा गया है कि इस प्रोजेक्ट को निर्धारित समय से एक साल पहले यानी 2022 में पूरा कर लिया जाएगा|

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen

पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के 70 साल बाद इस प्रोजेक्ट का भूमि पूजन हुआ है, जब 2022 में आजादी के 75 साल पूरे होंगे तब मैं और शिंजो आबे बुलेट ट्रेन में एक साथ बैठेंगे| मोदी बोले कि भले ही टेक्नोलॉजी जापान से मिल रही है, लेकिन बुलेट ट्रेन के संसाधन भारत में ही बनेंगे| देश की कंपनियों को नया रोजगार मिलेगा और मेक इन इंडिया को बल मिलेगा| 70 से अधिक छोटे शहरों को हवाई यात्रा शुरू की है|

प्रधानमंत्री ने कहा कि जापान ने भारत को नई सौगात दी है| इस हाई स्पीड रेलवे सिस्टम से ना सिर्फ दो जगहों के बीच दूरी कम होगी बल्कि 500 किलोमीटर दूर बसे दो शहरों के लोग भी और पास आएंगे| मोदी ने बताया कि जापान ने बुलेट ट्रेन के लिए 88 हजार करोड़ रुपए का लोन दिया, जिस पर 0.1 प्रतिशत ब्याज लिया जा रहा है| इस प्रोजेक्ट के लिए शिंजो आबे ने निजी रूप से रुचि दिखाई, इसलिए तेजी से काम हो रहा है| जापान ने दिखा दिया है कि वो भारत का सबसे मजबूत दोस्त है|

शिंजो आबे बोले कि भारत और जापान की दोस्ती सिर्फ द्विपक्षीय नहीं है, यह विश्व व्यवस्था की है| जापान पूरी तरह से मेक इन इंडिया का समर्थन करता है| आबे ने कहा कि मैं और पीएम मोदी जय इंडिया, जय जापान का सपना साकार करेंगे| उन्होंने कहा कि अगली बार जब भारत आऊंगा तो बुलेट ट्रेन में बैठूंगा|

जापानी पीएम बोले कि जापान में बुलेट ट्रेन से कोई हादसा नहीं होता है, एक दिन पूरे भारत में बुलेट ट्रेन दौड़ेगी| जापान की बुलेट ट्रेन पूरी दुनिया में सबसे सुरक्षित बुलेट ट्रेन सेवा है| शिंजो आबे ने कहा कि पीएम मोदी एक दूरदर्शी नेता हैं, मैंने खुद इस प्रोजेक्ट में रुचि ली है| जापान से 100 से अधिक इंजीनियर भारत में आए हुए हैं, मोदी की नीतियों का पूरा समर्थन करता हूं|

जापानी पीएम शिंजो आबे ने नमस्कार से अपने भाषण की शुरुआत की| उन्होंने कहा कि भारत का ताकतवर होना जापान के हित में है| भारत में नए अध्याय की शुरुआत हुई है|