sahaja yoga
sahaj
sahaja

पोर्ट एलिजाबेथ। पांचवें वनडे में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए रोहित शर्मा के शानदार शतक बदौलत दक्षिण अफ्रीका को जीत के लिए 275 का लक्ष्य दिया है। इससे पहले दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया था।

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen

अंतिम विकेट के रुप में धोनी अफ्रीकी बॉलर नगीदी की बॉल पर 13 रन बनाकर आउट हुए जबकि श्रेयष अय्यर ने 37 रन बनाए। भारत को पहला झटका धवन के रुप में मैच के आठवें ओवर में लगा। वह 34 रन बनाकर रबाड़ा की बाल पर आउट हुए।

भारत को विराट कोहली के रूप में दूसरा और अजिंक्‍‍‍य रहाणे के रूप में तीसरा विकेट गिरा। कोहली 36 रन बनाकर रन आउट हुए। वहीं रहाणे 8 रन बनाकर रन आउट हो गए। वहीं दक्षिण अफ्रीका की तरफ से लुंगी नगीदी ने तीन महत्वपुर्ण विकेट हांसिल किए जबकि रबाडा को एक विकेट मिला।

टीम इंडिया के लिए राहत की बात ये रही कि आउट ऑफ फॉर्म नजर आ रहे है रोहित शर्मा इस मैच में रंग में दिखे। रोहित शर्मा ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 126 गेंदों में 115 रन बनाए। इससे पहले भारत को शिखर धवन के रूप में पहला झटका लगा था। शिखर धवन को रबाडा ने आउट किया। आउट होने से पहले उन्होंने 23 गेंदों पर आठ चौकों की मदद से 34 रन बनाए।

इससे पहले दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया था। इस मैच के लिए भारत ने टीम में कोई बदलाव नहीं किया है। टॉस जीतने के बाद दक्षिण अफ्रीकी कप्तान ऐडन मार्करम ने कहा कि,’ यहां शाम के वक्त गेंद बल्ले पर आसानी से आती है। इसी वजह से हमने टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी का न्यौता दिया है।’

वहीं विराट कोहली ने कहा कि अगर वो टॉस जीतते तो दक्षिण अफ्रीका की तरह पहले गेंदबाजी करते। हालांकि कोहली ने कहा कि पिच दिन भर एक जैसा खेलेगी। ऐसे में दिन के उजाले में भारतीय फिरकी गेंदबाजों की मदद से मेजबान टीम पर दबाव डालने की कोशिश की जाएगी।

दक्षिण अफ्रीका में भारत इतिहास रचने से बस एक कदम दूर है। अगर पोर्ट एलिजाबेथ में आज होने वाले पांचवे वनडे में टीम इंडिया जीत दर्ज करती है तो वो इस मैदान पर हार का रिकॉर्ड बदल देगी बल्कि अफ्रीकी जमीन पर पहली वनडे सीरीज जीतने का कारनामा भी कर देगी।

टीम इंडिया ने पहले तीन वनडे में जिस अंदाज में क्रिकेट खेला है। उससे उम्मीद बंधी है, ये अलग बात है कि बारिश से बाधित चौथे वऩडे में जरुर भारत को हार का सामना करना पड़ा। मगर उस मुकाबले में भी पलड़ा टीम इंडिया का ही भारी था। ऐसे में अगर पोर्ट एलिजाबेथ में मौसम खलल नहीं पैदा करता है, तो टीम इंडिया यहां नया इतिहास रच सकती है।

भारतीय टीम ने डरबन में पहला मैच छह विकेट से, वहीं सेंचुरियन में दूसरा मैच नौ विकेट से और तीसरा मैच केपटाउन में 124 रन से जीता था। लेकिन, मेजबान टीम ने बारिश से प्रभावित चौथे पिंक वनडे में पांच विकेट से जीत हासिल कर वापसी की थी।

यहां ऐसा रहा है रिकॉर्ड
पिछले कुछ सालों में दक्षिण अफ्रीका में भारत का रिकॉर्ड खराब रहा है, लेकिन विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम इसे बदल सकती है। साल 2013-14 के दौरान हुई वनडे सीरीज में भारत को दक्षिण अफ्रीका के हाथों 0-2 से हार झेलनी पड़ी थी। 2010-11 में हुई सीरीज में मेहमान टीम ने दक्षिण अफ्रीका को कड़ी टक्कर दी थी, लेकिन भारतीय टीम 2-3 से सीरीज हार गई।

इस प्रकार हैं टीमें
भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर, महेंद्र सिंह धोनी( विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, भुवनेश्नर कुमार, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल

दक्षिण अफ्रीका : एडेन मार्करैम (कप्तान), हाशिम अमला, जेपी डुमिनी, डेविड मिलर, मोर्नी मोर्केल, लुंगी नगीदी, एंदिल फेलुक्वायो, कैगिसो रबादा, तबरेज शम्सी, हेनरिक क्लासेन (विकेटकीपर), एबी डिविलियर्स।