नई दिल्ली। रेयान समूह के एक अधिकारी ने सुप्रीम कोर्ट से छात्र हत्या मामले को हरियाणा से दूसरी जगह स्थानांतरित करने की गुहार लगाई है। गुरुग्राम स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल की कक्षा दो के छात्र प्रद्युम्न की हत्या मामले में रेयान के उत्तरी जोन के मुखिया फ्रांसिस थामस को गिरफ्तार किया गया है। याची ने शीर्ष अदालत से कहा है कि इस सनसनीखेज मामले में आरोपी के लिए वकीलों ने पेश नहीं होने की घोषणा की है। शीर्ष अदालत सोमवार को इस याचिका पर सुनवाई कर सकती है।

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen

वरिष्ठ अधिवक्ता केटीएस तुलसी ने बुधवार को मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ के सामने थामस की ओर से दलील पेश की। वरिष्ठ अधिवक्ता ने कहा कि मामले की सुनवाई दिल्ली या कहीं और स्थानांतरित की जाए क्योंकि हरियाणा के सोहना और गुरुग्राम अधिवक्ता संघों ने इस मामले में आरोपी की पैरवी नहीं करने की घोषणा की है। इससे उनके मुवक्किल का जीवन और स्वंतत्रता का मौलिक अधिकार बाधित हो रहा है। तुलसी ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को मामले में निष्पक्ष और स्वतंत्र सुनवाई का अधिकार है। हर व्यक्ति अपनी पसंद का वकील चुन सकता है। लेकिन इस मामले में मुवक्किल के इस अधिकार का हनन हो रहा है। तुलसी का अनुरोध स्वीकार करते हुए कोर्ट ने मामले पर 18 सितंबर को सुनवाई करने की मंजूरी दे दी।