(संजय सैनी/न्यूज़ DNN नेटवर्क) मंडी गोबिन्दगढ़य के नज़दीकी गांव फतेहगढ़ न्यूआं में आज गांव वासियों में दूषित पानी को लेकर जल सप्लाई व सेनिटेशन विभाग के खि़लाफ़ भरी रोष देखने को मिला। उनका कहना है कि जल सप्लाई विभाग की ओर से गांव को दिया जाने वाला पानी पीने योग्य नहीं है। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने पंजाब सरकार से पीने के लिए स्वच्छ पानी मुहैया करवाए जाने की मांग की है। उन्होंने आरोप लगाया कि पंजाब सरकार गांव में गेल इंडिया लिमटिड की सहायता शुद्ध जल सप्लाई के बड़े – बड़े दावे कर रही है लेकिन ज़मीनी हकीकत इसके उलट है, गांववासी दूषित पानी पीने के लिए मजबूर हैं। इस मौके पर पूर्व ग्राम पंचायत मैंबर रणधीर सिंह ने कहा कि पानी की पाईपें खेतों में लीक हो रही हैं जिसकी रिपेयर के लिए महकमे को कई बार बताया भी जा चूका है परन्तु कोई सुनवाई नहीं हो रही। उन्होंने बताया कि प्रसाशन द्वारा जो साफ़ सुथरा पानी सप्लाई के दावे किये जा रहे हैं वह सफ़ेद झूठ हैं गांववासी पीने योग्य पानी के लिए गांव में लगी पानी की टंकी पर ही निर्भर हैं। जिसका पानी पीना तो दूर कपड़े धोने व नहाने के योग्य भी नहीं है। मजबूरी में लोग दूषित पानी पी कर अपना जीवन बसर कर रहे हैं। सेवा मुक्त हो चुके फ़ौजी हवलदार पाल सिंह ने कहा कि वह इस मामले को ले कर चंडीगढ़ तक शिकायतें कर चुके हैं परन्तु विभाग की तरफ से कोई सुनवाई नहीं हुई। उन्होंने बताया कि दूषित पानी पीने से लोग कई प्रकार की बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। उन्होंने पंजाब सरकार से अपील की है कि लोगों को साफ़ सुथरा पीने वाला पानी मुहैया करवाया जाय। प्रदर्शनकारियों में करतार सिंह पूर्व पंच, दर्शन सिंह नंबरदार, दयाल सिंह नंबरदार, गुरचरन सिंह, कर्म सिंह गर्चा, नेत्र सिंह ठेकेदार, शेर सिंह पूर्व पंच, हरबंस सिंह, चरन सिंह, कुलवंत सिंह पूर्व सरपंच, मुखत्यार सिंह फ़ौजी, बग्गा सिंह रणजोध सिंह,परमिन्दर सिंह,गुरजीत सिंह शामिल हैं।

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen