लुधियाना (न्यूज़ DNN नेटवर्क) प्लास्टिक डोर किस तरह से असामाजिक तत्वों के लिए हथियार का काम कर रही है ऐसा उस समय देखने को मिला जब विश्वकर्मा चौक के नजदीक एक निजी अस्पताल में काम करने वाले युवक सोनू कुमार पर अज्ञातों द्वारा लूट की नीयत से प्लास्टिक डोर से हमला कर घायल करने का मामला सामने आया।मामले की पूरी जानकारी देते हुए बरोटा रोड निवासी सोनू कुमार ने बताया कि वह उक्त अस्पताल में हॉउस कीपिंग का काम करता है व् शुक्रवार को रात करीब 8 बजे जब वह अपनी एक्टिवा पर सवार होकर ड्यूटी पर जा रहा था तो गिल रोड साईकल मार्किट के पास उसके गले में प्लास्टिक डोर लिपट गई जब उसने डोर को छुड़वाना चाहा तो डोर के कारण उसके कान के पीछे कट लग गया।उसने बताया कि वहाँ खड़े दो से तीन युवकों के हाथ में उक्त डोर देखकर वह घबरा गया व् उसने एक्टिवा को आगे की ओर तेजी से बढ़ा लिया।सोनू के मुताबिक जब वह अस्पताल पहुँचा तो उसके कान खून से लथ पथ था जहाँ डॉक्टरों द्वारा उसके कान के पीछे टांके लगाकर उसका इलाज किया गया।शनिवार सुबह अस्पताल प्रबंधकों ने घटना की सुचना प्लास्टिक डोर के खिलाफ अभियान चला रही संस्था एक्शन अगेंस्ट करप्शन के पदाधिकारियों को दी जिसके बाद संस्था के अध्यक्ष चन्द्रकान्त चड्ढा व् जिलाध्यक्ष गुरविंदर छतवाल मौके पर पहुँचे।चंद्रकांत चड्ढा द्वारा पीड़ित सोनू कुमार की ओर से इस मामले में चौंकी मिलर गंज में अज्ञात लुटेरों के खिलाफ शिकायत दी है।चन्द्रकान्त चड्ढा ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि पतंगबाजी के लिए प्रयोग होने वाली प्रतिबंधित प्लास्टिक डोर अब चोर लुटेरों के लिए हथियार का काम कर रही है चड्ढा ने पुलिस कमिश्नर से माँग की है कि असामाजिक तत्वों के लिए तेजधार हथियार साबित होने वाली प्लास्टिक डोर के खिलाफ तुरन्त ठोस कदम उठाएं जाए।

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen