कपूरथला, (न्यूज़ DNN नेटवर्क): थाना सिटी पुलिस ने सोमवार सुबह अजीत नगर के लोगों की िशकायत पर मां प्रकाश काैर और बेटी गुरदीप कौर को बुरी तरह जख्मी हालत में उपचार के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया था। मां बेटी इतनी जख्मी थी कि वह पुलिस को बयान नहीं दे सकी।

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen

मंगलवार को पुलिस को दिए बयान में 25 वर्षीय गुरदीप कौर पुत्री अमरनाथ मूल निवासी लुधियाना ने बताया कि कपूरथला के गांव झल ठीकरीवाल के जगदीश सिंह उर्फ नवाब का लुधियाना में अपनी बहन के घर आना जाना था। पड़ोसी होने के नाते उनकी जान पहचान जगदीश सिंह से हो गई। उनका 5 मरले का प्लाट लुधियाना मंे था।

आरोपी बोला कि प्लाट बेच दो तुम्हे कपूरथला में घर ले दूंगा। हमने उसके कहने पर प्लाट बेच डाला तथा वह उन्हें कपूरथला ले आया और प्लाट का रुपया साढे-चार लाख उसने अपने पास रख लिया। गत डेढ वर्ष से वह मकान लेने के नाम पर टाल-मटोल कर रहा है। गत रविवार रात जब आरोपी अपने साथी किंदी के साथ उनके घर आया। जब हमने रुपयों की मांग या घर लेकर देने की बात कही तो दोनों ने उन पर तेजधार हथियारों से हमला कर दिया और घर के बाहर से बंद कर भाग गए।

मामले की जांच कर रहे थाना िसटी के एएसआई गुरमीत सिंह ने बताया कि उन्होंने घायल गुरदीप कौर के बयानों पर आरोपियो जगदीश सिंह उर्फ नवाब व किंदी निवासी गांव झल ठीकरीवाल के िवरुद्ध धारा 458, 459, 342, 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर उन्हें पकड़ने के लिए छापामारी शुरु कर दी है।