नई दिल्ली: दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग ने भ्रष्टाचार मामले में तीन अधि‍कारियों के निलं‍बन के आदेश दिए हैं. ‘आप’ के मंत्री सत्येंद्र जैन ने जहां एक ओर भ्रष्टाचार के ख‍िलाफ इस कार्रवाई का स्वागत किया है, वहीं कहा कि इस निलंबन या निलंबित अधि‍कारियों का आम आदमी पार्टी की सरकार से कोई लेना-देना नहीं है. निलंबित अध‍िकारियों में एक डिप्टी सीएम के पूर्व ओएसडी भी हैं.

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen

बता दें कि सोमवार को उपराज्यपाल नजीब जंग ने जमीन घोटाले के आरोप में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के पूर्व ओएसडी समेत दो अधिकारियों को सस्पेंड करने के आदेश जारी किए थे. इस पर सत्येंद्र जैन ने कहा, ‘उपमुख्यमंत्री ने कहा है कि उनका कोई अधिकारी नहीं है. फॉर्मर से क्या होता है. सरकार के अंदर तो बहुत सारे अधिकारी चलते रहते हैं. आज मेरे पास है कल किसी और के पास होगा.’

‘कोई पार्टी नहीं चाहती भ्रष्टाचार खत्म हो’
भ्रष्टाचार के खि‍लाफ खड़ी हुई आम आदमी पार्टी के मंत्री से जब भ्रष्ट अधिकारियों की पहचान और कार्रवाई को लेकर सवाल किया गया, तो उन्होंने कहा, ‘मैं किसी अधिकारी को बुला लूं तो वो उपराज्यपाल के पास शिकायत लेकर पहुंच जाते हैं. आज एसीबी हमसे ले ली गई है. कोई भी पॉलिटिकल पार्टी नहीं चाहती कि भ्रष्टाचार खत्म हो. सब चाहते हैं कि भ्रष्टाचार पनपे. लेकिन एक तरफ उपराज्यपाल ने आदेश भेज दिया कि अधिकारी को काम नहीं दे सकते, ट्रांसफर नहीं कर सकते तो किसी अधिकारी को सस्पेंड हम कैसे करेंगे.’

सत्येंद्र जैन ने एसीबी के नहीं होने का हवाला देते हुए कहा, ‘हमें एसीबी दे दीजिए. दो दिन में काम कर के दिखाएंगे जितने भी भ्रष्टाचारी हैं सबको पकड़कर जेल में डाल देंगे.’