(न्यूज़ Dnn नेटवर्क): कन्या भ्रूण हत्या के मुद्दे पर जब एक छात्रा ने गुजरात की मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के सामने अजन्मी बच्ची के खत के जर‌िए अपने दर्द का इजहार किया तो मुख्यमंत्री भी अपनी आंखों को भीगने से नहीं रोक पाई। मुख्यमंत्री गुजरात के खेड़ा जिले के एक प्राइमरी स्कूल में गुजरात सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के शुभारंभ के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने गईं थी तभी उन्हें छात्रा द्वारा पढ़ी गई पंक्तियों को सुनने का मौका मिला।
इसी दौरान कक्षा नौ की छात्रा अंबिका गोहल ने एक खत के माध्यम से मांओं द्वारा गर्भ में ही मार दी जाने वाली अजन्मी बच्चियों के दर्द का इजहार किया तो वहां बैठा हर व्यक्ति भाव विभोर हो गया। खत एक अजन्मी बच्ची की ओर से अपनी मां के लिए लिखा गया था जिसमें उसे जन्म देने और इस खूबसूरत संसार में आने देने की गुहार की गई थी। छात्रा द्वारा पढ़े गए इस खत में मौत से मुलाकात का उस अजन्मी बच्ची का दर्द भी दिखा, जिसे सुनाते सुनाते अंबिका खुद भी रोने लगी।
एक बेबस बेटी के इस दर्द ने काफी सख्त मिजाज कही जाने वाली 74 वर्षीय मुख्यमंत्री आनंदीबेन को भी भावविभोर कर दिया। उनकी आंखों से भी आंसू झर झर बह निकले।

Rhythm
VR
GLAXZY
Trasheen